पिकनिक स्पॉटों पर नए साल का जश्न शुरू, बरते सावधानी..

Bokaro

नववर्ष के आगमन में अब मात्र एक दिन शेष है, लिहाजा नए वर्ष 2018 के आगमन को लेकर लोग काफी उत्साहित है। नए साल की स्वागत की तैयारी में हर उम्र के लोग लगे हुए हैं। शहर के होटल और रेस्टोरेट सज कर पूरी तरह तैयार हैं और पिकनिक स्पॉटों पर जश्न मनाने के लिए लोगों का पहुंचना शुरू हो गया है।

जिले के पिकनिक स्पॉट पर तो लोग 25 दिसबंर के बाद से ही आना शुरू कर देते हैं। वहीं नववर्ष के आगमन पर यहां सैलानियों की विशेष भीड़ रहती है। इनमें से सिटी पार्क, गरगा डैम, तेनुघाट डैम, सतनपुर पहाड़ी, हथिया पत्थर, ललपनिया स्थित लुगु पहाड़ी, गवई बराज डैम, चंदनकियारी के भैरव स्थान पर लोग मुख्य रूप से पिकनिक मनाने जाते हैं। वहीं शहर के जवाहरलाल जैविक उद्यान (नेहरू पार्क) में भी लोग सपरिवार घूमने जाते हैं। इसके अलावा जगन्नाथ मंदिर, सेक्टर-6 स्थित साईं मंदिर, राम मंदिर, भूतनाथ बाबा मंदिर सहित शहर के विभिन्न मंदिरों में लोग पूजा-अर्चना करने जाते हैं। सैलानियों की पहली पसंद रहा तेनुघाट डैम पर तो दूरदराज के भी सैलानी पिकनिक मनाने के लिए बड़ी संख्या में पहुँचने लगे हैं।

तेनुघाट डैम सौंदर्य सैलानियों को काफी भाता है। मिट्टी के तटबंध वाले एशिया के सबसे बड़े डैम के इर्दगिर्द प्रतिदिन कई दूरदराज के सैलानी पिकनिक मनाते हैं। डैम के रेडियल गेट से गिरते पानी झरने का मनमोहक नजारा पेश करता है। यहां सैलानियों के लिए नौका-विहार की भी व्यवस्था है बोकारो जिला मुख्यालय से 45 किमी, पेटरवार प्रखंड मुख्यालय से 15 किमी एवं गोमिया प्रखंड मुख्यालय से लगभग 10 किमी की दूरी पर स्थित तेनुघाट डैम के निकट पर्यटकों के लिए अतिथिगृह, टूरिस्ट कॉम्प्लेक्स जैसे स्थान पर ठहरने की व्यवस्था भी है।

उम्मीद है कि नए वर्ष के जश्न में करीब एक लाख लोग शहर के विभिन्न पिकनिक स्पाटों पर पहुंचेंगे। जश्न में किसी तरह की खलल न हो, इसे देखते हुए बोकारो पुलिस ने भी सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया है। तमाम पिकनिक स्पॉट चिन्हित कर लिए गए हैं, जहां पर नव वर्ष के स्वागत की संभावना है। उन सभी पर पुलिस सादे लिबास में नजर रखेगी। पहली जनवरी को बाइकर्स पर भी पुलिस विशेष नजर रखेगी।

वहीं तेनुघाट डैम पर पुलिस ने सुरक्षा के लिए आउट पोस्ट की भी स्थापना की है। तेनुघाट डैम आने के लिए सैलानियों को तीन ओर से सड़क यातायात की सुविधा है। एक रास्ता बेरमो-कथारा होते हुए, दूसरा भाया गोमिया और तीसरा भाया पेटरवार यहां सड़क मार्ग की सुविधा है।

नव वर्ष को लेकर थोड़ी सी लापरवाही रंग में भंग डाल सकती है। नव वर्ष का स्वागत में बेहिसाब शराब व कान फोड़ म्यूजिक से परहेज ही बेहतर रहेगा। शराब के नशे में लोग तेज आवाज में बजने वाले गीतों पर डांस करते हैं। मस्ती में सब भूलकर अधिक डेसीबल आवाज पर डांस करना सही नहीं है।

Leave a Reply