जियाडा द्वारा सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क के लिए जमीन हस्तांतरण की प्रक्रिया हुई पूरी..

Bokaro, Business, Career, Industry, News

बोकारो के युवाओं के लिए एक अच्छी खबर आई है। आने वाले दो सालों में यहां सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क का सपना साकार होने जा रहा। इसके लिए जियाडा की ओर से एसटीपीआई को जमीन हस्तांतरित करने की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। जियाडा ने बालीडीह स्थित अपने कार्यालय के पास 1.45एकड़ एसटीपीआई को दिया है। उधर एसटीपीआई ने भी भवन निर्माण हेतु निविदा की प्रक्रिया पूरी कर ली है। उम्मीद जताई जा रही कि सितंबर महीने से यहां निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

बोकारो जिले में बनने जा रहा ये एसटीपीआई राज्य का चौथा एसटीपीआई केंद्र होगा। इसमें बीपीओ कंपनियों के ऑफिस खोले जाएंगे। योजना के मुताबिक बोकारो जिले को सॉफ्टवेयर केंद्र के साथ-साथ इलेक्ट्रॉनिक केंद्र भी बनाया जाएगा। इसका उद्देश्य है कि एसटीपीआई की मदद से बियाडा क्षेत्र में इलेक्ट्रॉनिक चीजों का निर्माण करनेवाली इकाई की स्थापना की जा सके।

ज्ञात हो कि राज्य में अबतक सॉफ्टवेयर विकसित करने वाली बड़ी कंपनियों का अभाव है। बीपीओ सेवा के लिए ये कंपनियां दिल्ली, कोलकाता व मुंबई जैसे बड़े शहरों तक सिमित हैं। लेकिन अब सॉफ्टवेयर पार्क बनने से बोकारो के तकनीकी संस्थानों के छात्रों को स्थानीय स्तर पर रोजगार मिल सकेगा।

क्या-क्या मिलेंगे लाभ?


बड़ी-बड़ी आईटी कंपनियों के दफ्तर खुलेंगे।
लगभग पांच सौ तकनीकी व कंप्यूटर विशेषज्ञों के लिए रोजगार के अवसर।
राज्य सरकार व निजी संस्थानों की सॉफ्टवेयर एवं आईटी की जरूरत पूरी करने में मदद मिलेगी।
इस्पात नगरी के साथ-साथ बोकारो बनेगा सॉफ्टवेयर क्षेत्र।
जिले के पोलिटेक्निक एवं इजीनियरिंग के छात्रों को स्थानीय रोजगार।
इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद के निर्माण हेतु प्रोत्साहन योजना की शुरूआत एवं तकनीकी मदद मिल सकती है।
डिजिटल इंडिया अभियान को गति। 


 

One thought on “जियाडा द्वारा सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क के लिए जमीन हस्तांतरण की प्रक्रिया हुई पूरी..

Leave a Reply